होम » वीडियो » उत्तराखंड

VIDEO: उत्तराखंड में 16 करोड़ की लागत से बनेगी 3 हाई लेवल वाटर टेस्टिंग लैब

उत्तराखंड News18 Uttarakhand| December 7, 2018, 2:42 PM IST

नमामि गंगे प्रोजेक्ट के तहत उत्तराखंड में 16 करोड़ रुपए की लागत से 3 हाई लेवल वाटर टेस्टिंग लैब स्थापित की जाएगी. इसके तहत देहरादून में अत्याधुनिक यंत्रों से युक्त सेंट्रल लैब स्थापित होगी, वहीं काशीपुर और रुड़की में रीजनल लैब बनाई जाएगी. राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को इस प्रोजेक्ट की जिम्मेदारी मिली है. बोर्ड को 16 करोड़ रुपए के इस प्रोजेक्ट के तहत 8 करोड़ रुपए की पहली किस्त भी जारी कर दी गई है. बोर्ड का कहना है कि अगले 8-9 महीने में ये लैब बनकर तैयार हो जाएगी. इन लैबों में प्रतिमाह प्रदेश के नदी-नालों, सीवर ट्रीटमेंट प्लांट और प्रदूषणकारी उद्योगों की जांच की जाएगी. राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के साथ ही प्रदेश में जल प्रदूषण जांच करने की दिशा में इस प्रोजेक्ट को संजीवनी माना जा रहा है. इसकी जानकारी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के नोडल ऑफिसर एसएस पाल ने दी है.

Sunil Navprabhat
First published: December 7, 2018, 2:42 PM IST

नमामि गंगे प्रोजेक्ट के तहत उत्तराखंड में 16 करोड़ रुपए की लागत से 3 हाई लेवल वाटर टेस्टिंग लैब स्थापित की जाएगी. इसके तहत देहरादून में अत्याधुनिक यंत्रों से युक्त सेंट्रल लैब स्थापित होगी, वहीं काशीपुर और रुड़की में रीजनल लैब बनाई जाएगी. राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को इस प्रोजेक्ट की जिम्मेदारी मिली है. बोर्ड को 16 करोड़ रुपए के इस प्रोजेक्ट के तहत 8 करोड़ रुपए की पहली किस्त भी जारी कर दी गई है. बोर्ड का कहना है कि अगले 8-9 महीने में ये लैब बनकर तैयार हो जाएगी. इन लैबों में प्रतिमाह प्रदेश के नदी-नालों, सीवर ट्रीटमेंट प्लांट और प्रदूषणकारी उद्योगों की जांच की जाएगी. राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के साथ ही प्रदेश में जल प्रदूषण जांच करने की दिशा में इस प्रोजेक्ट को संजीवनी माना जा रहा है. इसकी जानकारी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के नोडल ऑफिसर एसएस पाल ने दी है.

Latest Live TV