VIDEO: वर्षों की सेवा के बाद पेंशन व फंड को भटक रहे बाबूराम

उत्तराखंड07:14 PM IST Sep 10, 2018

वर्षों तक हरिद्वार नगर निगम में सेवाएं देने वाले बाबूराम ने सोचा था कि सेवा निवृत्त होने के बाद जो पैसा मिलेगा उससे बुढ़ापा संवर जाएगा.लेकिन सेवा निवृत्त होने के बाद आज तक न तो बाबूराम की पेंशन बन पाई और न ही उन्हें उनका फंड मिला.बुढ़ापे की मार झेल रहे बाबूराम आज वर्षों बाद भी दफ्तरों के चक्कर काटने को मजबूर हैं.सालों तक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के तौर पर अपनी सेवाएं देने के बाद आज बुढ़ापे में अपाहिज की तरह हो गए हैं.आज उनकी जबान भी तुतलाने लगी है लेकिन विभागीय अधिकारियों की उदासीनता के चलते बाबूराम की हालत जानना कोई भी विभागीय अधिकारी जरूरी नहीं समझ रहा.वहीं पूरे मामले पर सिटी मजिस्ट्रेट मनीष कुमार ने कहा कि मैं व्यक्तिगत रूप से मामले को दिखवाता हूं कि क्या वजह है जो उनकी पेंशन नही बन पाई और फंड भी अभी तक फंसा हुआ है.नगर निगम में पत्राचार कर इसकी जानकारी ली जाएगी.

news18 hindi

वर्षों तक हरिद्वार नगर निगम में सेवाएं देने वाले बाबूराम ने सोचा था कि सेवा निवृत्त होने के बाद जो पैसा मिलेगा उससे बुढ़ापा संवर जाएगा.लेकिन सेवा निवृत्त होने के बाद आज तक न तो बाबूराम की पेंशन बन पाई और न ही उन्हें उनका फंड मिला.बुढ़ापे की मार झेल रहे बाबूराम आज वर्षों बाद भी दफ्तरों के चक्कर काटने को मजबूर हैं.सालों तक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के तौर पर अपनी सेवाएं देने के बाद आज बुढ़ापे में अपाहिज की तरह हो गए हैं.आज उनकी जबान भी तुतलाने लगी है लेकिन विभागीय अधिकारियों की उदासीनता के चलते बाबूराम की हालत जानना कोई भी विभागीय अधिकारी जरूरी नहीं समझ रहा.वहीं पूरे मामले पर सिटी मजिस्ट्रेट मनीष कुमार ने कहा कि मैं व्यक्तिगत रूप से मामले को दिखवाता हूं कि क्या वजह है जो उनकी पेंशन नही बन पाई और फंड भी अभी तक फंसा हुआ है.नगर निगम में पत्राचार कर इसकी जानकारी ली जाएगी.

Latest Live TV