लाइव टीवी
होम » वीडियो » उत्तराखंड » हरिद्वार

लव मैरिज विवाद: 19 महीने बाद सखी सेंटर से रिहा हुईं अंजलि, अब रहेंगी अपने पति के साथ

रायपुर News18 Chhattisgarh| November 20, 2019, 5:49 PM IST

रायपुर. 19 महीनों की जद्दोजहद और कानूनी प्रक्रियाओं के बाद आखिरकार धमतरी के बहुचर्चित प्रेम विवाह प्रकरण में अंजली को सखी वन स्टॉप सेंटर से छोड़ दिया गया. अंजली जैन अपने पति इब्राहिम उर्फ आर्यन के साथ रहने की इच्छा जताते हुए उसके साथ चली गई. इस दौरान सुरक्षा के मद्देनजर काफी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था. छत्तीसगढ़ के धमतरी के रहने वाले 33 वर्षीय मोहम्मद इब्राहिम सिद्दीक़ी और 23 वर्षीय अंजलि जैन ने 25 फ़रवरी 2018 को रायपुर के आर्य मंदिर में शादी की थी. इसके बाद इब्राहिम ने आरोप लगाया था कि अंजलि को उसके घरवालों ने कैद कर लिया है. फिर हाईकोर्ट में बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर करते हुए न्यायालय से अपनी पत्नी अंजलि जैन को वापस किए जाने की गुहार लगाई. अंजलि जैन ने माता-पिता के साथ रहने के बजाय छात्रावास में रहना तय किया था.

News18 Hindi
First published: November 20, 2019, 5:38 PM IST

रायपुर. 19 महीनों की जद्दोजहद और कानूनी प्रक्रियाओं के बाद आखिरकार धमतरी के बहुचर्चित प्रेम विवाह प्रकरण में अंजली को सखी वन स्टॉप सेंटर से छोड़ दिया गया. अंजली जैन अपने पति इब्राहिम उर्फ आर्यन के साथ रहने की इच्छा जताते हुए उसके साथ चली गई. इस दौरान सुरक्षा के मद्देनजर काफी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था. छत्तीसगढ़ के धमतरी के रहने वाले 33 वर्षीय मोहम्मद इब्राहिम सिद्दीक़ी और 23 वर्षीय अंजलि जैन ने 25 फ़रवरी 2018 को रायपुर के आर्य मंदिर में शादी की थी. इसके बाद इब्राहिम ने आरोप लगाया था कि अंजलि को उसके घरवालों ने कैद कर लिया है. फिर हाईकोर्ट में बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर करते हुए न्यायालय से अपनी पत्नी अंजलि जैन को वापस किए जाने की गुहार लगाई. अंजलि जैन ने माता-पिता के साथ रहने के बजाय छात्रावास में रहना तय किया था.

Latest Live TV