VIDEO: अब रुड़की में तालाब की ज़मीन से अतिक्रमण हटाने के हाईकोर्ट के आदेश

उत्तराखंड05:10 PM IST Sep 05, 2018

उत्तराखण्ड हाईकोर्ट ने रुड़की के राजपूताना में तालाब की भूमि से अतिक्रमण हटाने के आदेश दिए हैं. हाईकोर्ट की खण्डपीठ ने सरकार व डीएम को आदेश दिया है कि 2 महीने के भीतर तालाब की ज़मीन से दुकानों और मकानों को हटाएं. बता दें कि रुड़की की सुलोचना सैनी ने हाईकोर्ट मे जनहित याचिका दाखिल कर कहा था कि रुड़की के राजपूताना में बंजर ज़मीन, तालाब और रास्तों पर अतिक्रमण कर दुकान व मकानों को निर्माण किया गया है. उन्होंने इसके लिए सभी अधिकारियों को प्रत्यावेदन दिया मगर कोई कार्रवाई नहीं हुई. आज हाईकोर्ट में हुई सुनवाई के बाद जस्टिस राजीव शर्मा व जस्टिस मनोज तिवाड़ी की कोर्ट ने दो महीने के भीतर अतिक्रमण हटाने के आदेश जारी कर दिए. बता दें कि हाईकोर्ट ने मंगलवार को भी तालाब पर अतिक्रमण हटाने को लेकर एक आदेश जारी किया था. वह मामला ऊधम सिंह नगर की सुलतानपुर पट्टी में 44 बीघा तालाब की ज़मीन से अतिक्रमण का था, जहां तालाब की ज़मीन पर कब्ज़ा कर होटल, दुकान के अलावा सरकारी ऑफ़िस तक बना लिए गए हैं. (वीरेंद्र बिष्ट की रिपोर्ट)

news18 hindi

उत्तराखण्ड हाईकोर्ट ने रुड़की के राजपूताना में तालाब की भूमि से अतिक्रमण हटाने के आदेश दिए हैं. हाईकोर्ट की खण्डपीठ ने सरकार व डीएम को आदेश दिया है कि 2 महीने के भीतर तालाब की ज़मीन से दुकानों और मकानों को हटाएं. बता दें कि रुड़की की सुलोचना सैनी ने हाईकोर्ट मे जनहित याचिका दाखिल कर कहा था कि रुड़की के राजपूताना में बंजर ज़मीन, तालाब और रास्तों पर अतिक्रमण कर दुकान व मकानों को निर्माण किया गया है. उन्होंने इसके लिए सभी अधिकारियों को प्रत्यावेदन दिया मगर कोई कार्रवाई नहीं हुई. आज हाईकोर्ट में हुई सुनवाई के बाद जस्टिस राजीव शर्मा व जस्टिस मनोज तिवाड़ी की कोर्ट ने दो महीने के भीतर अतिक्रमण हटाने के आदेश जारी कर दिए. बता दें कि हाईकोर्ट ने मंगलवार को भी तालाब पर अतिक्रमण हटाने को लेकर एक आदेश जारी किया था. वह मामला ऊधम सिंह नगर की सुलतानपुर पट्टी में 44 बीघा तालाब की ज़मीन से अतिक्रमण का था, जहां तालाब की ज़मीन पर कब्ज़ा कर होटल, दुकान के अलावा सरकारी ऑफ़िस तक बना लिए गए हैं. (वीरेंद्र बिष्ट की रिपोर्ट)

Latest Live TV