VIDEO: कालागढ़ सिंचाई विभाग फ़्लैट्स के कब्ज़ाधारियों की विस्थापन की मांग

उत्तराखंड07:27 PM IST Oct 12, 2018

NGT के आदेशों के तहत कालागढ़ स्थित सिंचाई विभाग की केंद्रीय कॉलोनी में बने आवासों को ध्वस्त करने की प्रक्रिया शुरू किए जाने से इलाक़े में दहशत है. कालागढ़ में रामगंगा नदी पर बांध निर्माण के दौरान सिंचाई विभाग ने अपने कर्मचारियों के लिए अस्थाई कॉलोनी बनाई थी. 1974 में बांध बन जाने के बाद कॉलोनी को खाली कर वन विभाग को सौंपा जाना था लेकिन बहुत से लोग इन्हीं मकानों पर कब्ज़ा कर रहने लगे. बाद में यह मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा तो कॉलोनी को खाली कर ज़मीन वन विभाग को स्थानांतरित करने का आदेश आया. सुप्रीम कोर्ट ने NGT को इस मामले की निगरानी करने को कहा था. सितंबर में ही यह कॉलोनी खाली कर दी जानी चाहिए थी लेकिन कुछ नहीं हुआ. अब प्रशासन जेसीबी से कॉलोनी के मकान गिरा रहा है जिसके विरोध में लोग वन मंत्री हरक सिंह रावत से मिले. उन्होंने कोई हल निकालने का आश्वासन दिया. (अनुपम भारद्वाज की रिपोर्ट)

news18 hindi

NGT के आदेशों के तहत कालागढ़ स्थित सिंचाई विभाग की केंद्रीय कॉलोनी में बने आवासों को ध्वस्त करने की प्रक्रिया शुरू किए जाने से इलाक़े में दहशत है. कालागढ़ में रामगंगा नदी पर बांध निर्माण के दौरान सिंचाई विभाग ने अपने कर्मचारियों के लिए अस्थाई कॉलोनी बनाई थी. 1974 में बांध बन जाने के बाद कॉलोनी को खाली कर वन विभाग को सौंपा जाना था लेकिन बहुत से लोग इन्हीं मकानों पर कब्ज़ा कर रहने लगे. बाद में यह मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा तो कॉलोनी को खाली कर ज़मीन वन विभाग को स्थानांतरित करने का आदेश आया. सुप्रीम कोर्ट ने NGT को इस मामले की निगरानी करने को कहा था. सितंबर में ही यह कॉलोनी खाली कर दी जानी चाहिए थी लेकिन कुछ नहीं हुआ. अब प्रशासन जेसीबी से कॉलोनी के मकान गिरा रहा है जिसके विरोध में लोग वन मंत्री हरक सिंह रावत से मिले. उन्होंने कोई हल निकालने का आश्वासन दिया. (अनुपम भारद्वाज की रिपोर्ट)

Latest Live TV