VIDEO: तीन दिन से गढ़वाल से कटा हुआ है कोटद्वार का संपर्क, बंद है NH-534

उत्तराखंड01:43 PM IST Aug 28, 2018

गढ़वाल की लाइफ़ लाइन कहा जाने वाला NH-534 तीन दिन बाद भी वाहनों के लिए नहीं खुल पाया है. इसकी वजह से यात्री पैदल ही पहाड़ी पार कर आ-जा रहे हैं. दरअसल भारी बारिश के चलते तीन दिन पहले पहाड़ी गिरने के चलते नेशनल हाइवे पर हाइवे तीन दिन पहले बंद हो गया था. इसकी वजह से कोटद्वार से गढ़वाल का संपर्क पूरी तरह से टूट गया है. पहाड़ी क्षेत्रों पर ज़रूरी सामग्री नहीं पहुंच पा रही है तो लैन्सडाउन स्थित गढ़वाल राइफल्स रेजिमेंट के मुख्यालय जाने के लिए आर्मी की गाड़ियां कोटद्वार से ऋषिकेश होते हुए यमकेश्वर का लंबा रास्ता तय कर लैन्सडाउन पहुंच रही हैं. राष्ट्रीय राजमार्ग बन्द होने से धूमाकोट, लैन्सडाउन, रिखणीखाल, जयहरीखाल, दुगड्डा, थलीसैण, नैनीडांडा समेत कई इलाकों में आवाजाही ठप हो चुकी है. हालांकि राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों का दावा है कि शाम 4 बजे तक एनएच को वाहनों के किए खोल दिया जाएगा. (अनुपम भारद्वाज की रिपोर्ट)

news18 hindi

गढ़वाल की लाइफ़ लाइन कहा जाने वाला NH-534 तीन दिन बाद भी वाहनों के लिए नहीं खुल पाया है. इसकी वजह से यात्री पैदल ही पहाड़ी पार कर आ-जा रहे हैं. दरअसल भारी बारिश के चलते तीन दिन पहले पहाड़ी गिरने के चलते नेशनल हाइवे पर हाइवे तीन दिन पहले बंद हो गया था. इसकी वजह से कोटद्वार से गढ़वाल का संपर्क पूरी तरह से टूट गया है. पहाड़ी क्षेत्रों पर ज़रूरी सामग्री नहीं पहुंच पा रही है तो लैन्सडाउन स्थित गढ़वाल राइफल्स रेजिमेंट के मुख्यालय जाने के लिए आर्मी की गाड़ियां कोटद्वार से ऋषिकेश होते हुए यमकेश्वर का लंबा रास्ता तय कर लैन्सडाउन पहुंच रही हैं. राष्ट्रीय राजमार्ग बन्द होने से धूमाकोट, लैन्सडाउन, रिखणीखाल, जयहरीखाल, दुगड्डा, थलीसैण, नैनीडांडा समेत कई इलाकों में आवाजाही ठप हो चुकी है. हालांकि राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों का दावा है कि शाम 4 बजे तक एनएच को वाहनों के किए खोल दिया जाएगा. (अनुपम भारद्वाज की रिपोर्ट)

Latest Live TV