लाइव टीवी
होम » वीडियो » उत्तराखंड

VIDEO: पंचेश्वर बाँध का विरोध कर रहे लोग बोले- 'रेल लाइन बिछाने में भी तत्परता दिखाए सरकार'

उत्तराखंड ETV UP/Uttarakhand| August 8, 2017, 2:55 PM IST

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में पंचेश्वर बाँध का विरोध कर रहे लोगों ने कहा कि जिस तेजी एशिया के सबसे बड़े पंचेश्वर बांध को बनाने की कवायद चल रही है, उसी तत्परता से सरकार टनकपुर-बागेश्वर रेल लाइन का काम भी शुरू करे. बता दें कि जिस इलाके में पंचेश्वर बांध बनना है, वहीं से रेल लाइन भी प्रस्तावित है. ऐसे में ये सवाल उठना लाजमी है कि क्या चीन और नेपाल की सीमा से सटे लोगों के लिए रेल एक ऐसा सपना साबित होगी, जो शायद ही कभी साकार हो पाए. आपको बता दें कि इस रेल लाइन का सर्वे सबसे पहले वर्ष 1922 में ब्रिटिश शासन में हुआ था. 5 हजार मेगावॉट से अधिक की क्षमता के पंचेश्वर बांध बनने से देश की ऊर्जा और सिंचाईं की जरूरतें तो पूरी होंगी, लेकिन इस बांध के पानी में ऐसे कई ऐसे सपनों का डूबना तय है, जिन्हें पहाड़ के लोग दशकों से देख रहे हैं.

Vijay Vardhan
First published: August 8, 2017, 2:55 PM IST

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में पंचेश्वर बाँध का विरोध कर रहे लोगों ने कहा कि जिस तेजी एशिया के सबसे बड़े पंचेश्वर बांध को बनाने की कवायद चल रही है, उसी तत्परता से सरकार टनकपुर-बागेश्वर रेल लाइन का काम भी शुरू करे. बता दें कि जिस इलाके में पंचेश्वर बांध बनना है, वहीं से रेल लाइन भी प्रस्तावित है. ऐसे में ये सवाल उठना लाजमी है कि क्या चीन और नेपाल की सीमा से सटे लोगों के लिए रेल एक ऐसा सपना साबित होगी, जो शायद ही कभी साकार हो पाए. आपको बता दें कि इस रेल लाइन का सर्वे सबसे पहले वर्ष 1922 में ब्रिटिश शासन में हुआ था. 5 हजार मेगावॉट से अधिक की क्षमता के पंचेश्वर बांध बनने से देश की ऊर्जा और सिंचाईं की जरूरतें तो पूरी होंगी, लेकिन इस बांध के पानी में ऐसे कई ऐसे सपनों का डूबना तय है, जिन्हें पहाड़ के लोग दशकों से देख रहे हैं.

Latest Live TV