VIDEO: टिहरी में दूसरे दिन भी छत पर चढ़े रहे छात्र नेता, अनशन किया शुरू

उत्तराखंड06:59 PM IST Aug 31, 2018

नई टिहरी डिग्री कॉलेज में एबीवीपी कार्यकर्ताओं का आंदोलन तीसरे दिन भी जारी है. गुरुवार को पैट्रोल लेकर छत पर चढ़े चार छात्र अब भी नहीं उतरे हैं और मांगें मानी जाने तक आंदोलन जारी रखने का ऐलान किया है. इन 4 छात्रों में से दो छात्र कॉलेज में ही धरने पर बैठ गए हैं. एबीवीपी कार्यकर्ता कॉलेज प्रबन्धन पर छात्रों के हितों की उपेक्षा का आरोप लगा रहे हैं. बता दें कि एबीवीपी राज्य भर में सेमेस्टर सिस्टम का विरोध करते हुए आंदोलनरत है. छात्रों का कहना है उच्च शिक्षा विभाग की लापरवाही की वजह से छात्र-छात्राओं को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. सेमेस्टर सिस्टम की वजह से हज़ारों छात्र-छात्राओं का रिज़ल्ट अटक गया है. छत पर चढ़े छात्रों को मनाने के लिए आज कॉलेज प्रबन्धन ने पहले श्रीनगर विश्वविद्यालय से बात की और फिर छात्र नेताओं की भी विश्वविद्यालय अधिकारियों से बात करवाई. विश्वविद्यालय प्रबंधन ने कहा कि जिस छात्र को ज़्यादा ज़रूरत है उसे श्रीनगर से प्रोविज़नल सर्टिफ़िकेट मिल सकता है. लेकिन छात्रों का कहना है कि विश्वविद्यालय सभी का रिज़ल्ट घोषित करे उसके बाद ही आंदोलन ख़त्म करने पर विचार किया जाएगा.

Saurabh Singh

नई टिहरी डिग्री कॉलेज में एबीवीपी कार्यकर्ताओं का आंदोलन तीसरे दिन भी जारी है. गुरुवार को पैट्रोल लेकर छत पर चढ़े चार छात्र अब भी नहीं उतरे हैं और मांगें मानी जाने तक आंदोलन जारी रखने का ऐलान किया है. इन 4 छात्रों में से दो छात्र कॉलेज में ही धरने पर बैठ गए हैं. एबीवीपी कार्यकर्ता कॉलेज प्रबन्धन पर छात्रों के हितों की उपेक्षा का आरोप लगा रहे हैं. बता दें कि एबीवीपी राज्य भर में सेमेस्टर सिस्टम का विरोध करते हुए आंदोलनरत है. छात्रों का कहना है उच्च शिक्षा विभाग की लापरवाही की वजह से छात्र-छात्राओं को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. सेमेस्टर सिस्टम की वजह से हज़ारों छात्र-छात्राओं का रिज़ल्ट अटक गया है. छत पर चढ़े छात्रों को मनाने के लिए आज कॉलेज प्रबन्धन ने पहले श्रीनगर विश्वविद्यालय से बात की और फिर छात्र नेताओं की भी विश्वविद्यालय अधिकारियों से बात करवाई. विश्वविद्यालय प्रबंधन ने कहा कि जिस छात्र को ज़्यादा ज़रूरत है उसे श्रीनगर से प्रोविज़नल सर्टिफ़िकेट मिल सकता है. लेकिन छात्रों का कहना है कि विश्वविद्यालय सभी का रिज़ल्ट घोषित करे उसके बाद ही आंदोलन ख़त्म करने पर विचार किया जाएगा.

Latest Live TV