होम » वीडियो

Video HTP: फ़तवा देने वाले मौलाना के ख़िलाफ़ ममता सरकार को कार्रवाई नहीं करनी चाहिए?

पॉलिटिक्स News18India| April 20, 2017, 10:56 PM IST

अज़ान पर बयान देकर विवाद में आए सोनू निगम ने साफ कर दिया कि उनका गुस्सा धर्म से नहीं लाउडस्पीकर और शोरगुल से था. उन्हें किसी एक धर्म के ठेकेदारों से नहीं हर धर्म के शोशेबाजों से शिकायत है. लेकिन अहम सवाल मौलाना का फतवा नहीं बल्कि ये है कि जिस शहर कोलकाता से ये फतवा जारी हुआ वो बंगाल की राजधानी है, जहां कि तृणमूल सरकार सेक्यूलरिज्म की दुहाई देते नहीं थकती. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के राज में ऐसा क्यों है? चर्चा में हमारे साथ जुड़े रहे हैं. हाजी अली के ट्रस्टी मुफ़्ती मंज़ूर ज़ियाई, गायक अभिजीत भट्टाचार्य, अभिनेत्री प्रिया मलिक, मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना सैयद आतिफ़ अली क़ादरी, TMC समर्थक सोमनाथ सिंघा रॉय, BJP प्रवक्ता ज़फ़र इस्लाम.

news18 hindi
First published: April 20, 2017, 10:49 PM IST

अज़ान पर बयान देकर विवाद में आए सोनू निगम ने साफ कर दिया कि उनका गुस्सा धर्म से नहीं लाउडस्पीकर और शोरगुल से था. उन्हें किसी एक धर्म के ठेकेदारों से नहीं हर धर्म के शोशेबाजों से शिकायत है. लेकिन अहम सवाल मौलाना का फतवा नहीं बल्कि ये है कि जिस शहर कोलकाता से ये फतवा जारी हुआ वो बंगाल की राजधानी है, जहां कि तृणमूल सरकार सेक्यूलरिज्म की दुहाई देते नहीं थकती. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के राज में ऐसा क्यों है? चर्चा में हमारे साथ जुड़े रहे हैं. हाजी अली के ट्रस्टी मुफ़्ती मंज़ूर ज़ियाई, गायक अभिजीत भट्टाचार्य, अभिनेत्री प्रिया मलिक, मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना सैयद आतिफ़ अली क़ादरी, TMC समर्थक सोमनाथ सिंघा रॉय, BJP प्रवक्ता ज़फ़र इस्लाम.

Latest Live TV