लाइव टीवी
होम » वीडियो » दुनिया

VIDEO: अमेरिका ने दिया पाक को एक और झटका, सैन्य मदद पर लगाई रोक

अमेरिका News18Hindi| January 5, 2018, 6:56 PM IST

आतंकी मंसूबे पालने वाले पाकिस्तान को अमेरिका ने एक और बड़ा झटका दिया है. ट्रंप शासन ने पाकिस्तान को दी जाने वाली अमेरीकी सैन्य मदद पर सशर्त रोक लगा दी है. जिस पर पाकिस्तान बुरी तरह से झल्ला गया है. अमेरिका की इस घोषणा के बाद पाकिस्तान ने इस मामले में प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अमेरिका भारत की भाषा बोल रहा है. अमेरिका की लगातार हो रही सख्ती से एक बात एकदम स्पष्ट है कि नया साल पाकिस्तान के लिए अच्छा नहीं रहने वाला है. अमेरिका ने दो दिन पहले आर्थिक मदद रोकने का फरमान जारी किया था और अब सैन्य मदद रोकने वाले बयान से तो पाकिस्तान एकदम हक्का-बक्का रह गया है. इस मामले में अमेरीकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हीदर नौअर्ट ने स्पष्ट कर दिया है कि इस समय पाकिस्तान की केवल सैन्य मदद रोक रहा है और ये रोक तब तक जारी रहेगी, जब तक कि पाकिस्तान अफगान-तालिबान और हक्कानी नेटवर्क पर सख्त कार्रवाई नहीं करता. अमेरिका, हालात स्थिर होने और अमेरिकी लोगों को निशाना बनाए जाने के कारण यह कदम उठा रहा है. इस फैसले के तहत अमेरिका पाकिस्तान को सैन्य उपकरण और सैन्य फंड संबंधी कोई भी मदद नहीं करेगा. इस फैसले के साथ ही ऐसा लग रहा है कि साल 2018 के आगाज के साथ ट्रंप शासन की टेढ़ी नजर पाकिस्तान पर गड़ गई है. ट्रंप शासन ने पाकिस्तान को कार्रवाई का ट्रेलर दिखा दिया है. अब टेरर का टेंशन पाकिस्तान को है. मतलब यह कि आतंक सरपस्त पाक को अब आतंक का काल बनकर दिखाना ही होगा, नहीं तो पाकिस्तान उसे पैसे-पैसे के लिए मोहताज बना देगा.

news18 hindi
First published: January 5, 2018, 6:55 PM IST

आतंकी मंसूबे पालने वाले पाकिस्तान को अमेरिका ने एक और बड़ा झटका दिया है. ट्रंप शासन ने पाकिस्तान को दी जाने वाली अमेरीकी सैन्य मदद पर सशर्त रोक लगा दी है. जिस पर पाकिस्तान बुरी तरह से झल्ला गया है. अमेरिका की इस घोषणा के बाद पाकिस्तान ने इस मामले में प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अमेरिका भारत की भाषा बोल रहा है. अमेरिका की लगातार हो रही सख्ती से एक बात एकदम स्पष्ट है कि नया साल पाकिस्तान के लिए अच्छा नहीं रहने वाला है. अमेरिका ने दो दिन पहले आर्थिक मदद रोकने का फरमान जारी किया था और अब सैन्य मदद रोकने वाले बयान से तो पाकिस्तान एकदम हक्का-बक्का रह गया है. इस मामले में अमेरीकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हीदर नौअर्ट ने स्पष्ट कर दिया है कि इस समय पाकिस्तान की केवल सैन्य मदद रोक रहा है और ये रोक तब तक जारी रहेगी, जब तक कि पाकिस्तान अफगान-तालिबान और हक्कानी नेटवर्क पर सख्त कार्रवाई नहीं करता. अमेरिका, हालात स्थिर होने और अमेरिकी लोगों को निशाना बनाए जाने के कारण यह कदम उठा रहा है. इस फैसले के तहत अमेरिका पाकिस्तान को सैन्य उपकरण और सैन्य फंड संबंधी कोई भी मदद नहीं करेगा. इस फैसले के साथ ही ऐसा लग रहा है कि साल 2018 के आगाज के साथ ट्रंप शासन की टेढ़ी नजर पाकिस्तान पर गड़ गई है. ट्रंप शासन ने पाकिस्तान को कार्रवाई का ट्रेलर दिखा दिया है. अब टेरर का टेंशन पाकिस्तान को है. मतलब यह कि आतंक सरपस्त पाक को अब आतंक का काल बनकर दिखाना ही होगा, नहीं तो पाकिस्तान उसे पैसे-पैसे के लिए मोहताज बना देगा.

Latest Live TV