लाइव टीवी
होम » वीडियो » दुनिया

VIDEO: आतंक पर ट्रंप को सफाई दे रहे हैं नवाज शरीफ

अमेरिका News18Hindi| January 4, 2018, 6:21 PM IST

आतंक का आशियाना पाकिस्तान इस समय अमेरिका की नीतियों से खासा बौखलाया हुआ है. विश्व समुदाय के बीच आतंकी नकाब उतरने से पाकिस्तान के माथे पर बल उभर आया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की फटकार पर अब पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ सफाई पेश कर रहे हैं. नवाज ने सफाई पेश करते हुए कहा कि ट्रंप की तरफ से एक गैर संजीदा ट्वीट जारी करना बेहद अफसोसनाक है. किसी देश के मुखिया को दूसरे देश से संवाद करते हुए इंटरनेशनल नॉर्म्स और डिप्लोमेटिक रूल्स का ख्याल रखना चाहिए. उन्होंने कहा कि हम 17 साल से एक ऐसी जंग में उलझे हुए हैं, जो बुनियादी तौर पर हमारी जंग नहीं थी. अमेरिकी प्रेसिडेंट को ये मालूम होना चाहिए कि साल 2013 में सत्ता में आते ही हमारी हुकूमत ने दहशतगर्दी के खात्मे के लिए पुख्ता इरादे का इजहार किया. इसी सियासी इच्छाशक्ति के नतीजे से ऑपरेशन ज़र्ब-ए-अज़ब का आगाज़ हुआ. नवाज ने कहा कि आज अल्लाह के फजल-ओ-करम से दहशतगर्दी की कमर तोड़ दी गई है. हमारे यहां आवाम के द्वारा चुनी हुई हुकूमत है, जो धमकियों की परवाह नहीं करती. अमेरिका कोलिएशन सपोर्ट फंड को डोनेशन या खैरात का नाम न दे. हमें ऐसे फंड की जरुरत भी नहीं है. आपको एहसान जताने की बजाय हमसे किसी सपोर्ट की उम्मीद भी नहीं करना चाहिए.

news18 hindi
First published: January 4, 2018, 6:21 PM IST

आतंक का आशियाना पाकिस्तान इस समय अमेरिका की नीतियों से खासा बौखलाया हुआ है. विश्व समुदाय के बीच आतंकी नकाब उतरने से पाकिस्तान के माथे पर बल उभर आया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की फटकार पर अब पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ सफाई पेश कर रहे हैं. नवाज ने सफाई पेश करते हुए कहा कि ट्रंप की तरफ से एक गैर संजीदा ट्वीट जारी करना बेहद अफसोसनाक है. किसी देश के मुखिया को दूसरे देश से संवाद करते हुए इंटरनेशनल नॉर्म्स और डिप्लोमेटिक रूल्स का ख्याल रखना चाहिए. उन्होंने कहा कि हम 17 साल से एक ऐसी जंग में उलझे हुए हैं, जो बुनियादी तौर पर हमारी जंग नहीं थी. अमेरिकी प्रेसिडेंट को ये मालूम होना चाहिए कि साल 2013 में सत्ता में आते ही हमारी हुकूमत ने दहशतगर्दी के खात्मे के लिए पुख्ता इरादे का इजहार किया. इसी सियासी इच्छाशक्ति के नतीजे से ऑपरेशन ज़र्ब-ए-अज़ब का आगाज़ हुआ. नवाज ने कहा कि आज अल्लाह के फजल-ओ-करम से दहशतगर्दी की कमर तोड़ दी गई है. हमारे यहां आवाम के द्वारा चुनी हुई हुकूमत है, जो धमकियों की परवाह नहीं करती. अमेरिका कोलिएशन सपोर्ट फंड को डोनेशन या खैरात का नाम न दे. हमें ऐसे फंड की जरुरत भी नहीं है. आपको एहसान जताने की बजाय हमसे किसी सपोर्ट की उम्मीद भी नहीं करना चाहिए.

Latest Live TV