लाइव टीवी
होम » वीडियो » दुनिया

VIDEO: चीनी मांझा बन गया जान का दुश्मन, मासूम सहित कई हुए जख्मी

चीन News18Hindi| January 15, 2018, 12:54 PM IST

चीन, भारत को जितना सीमा पर परेशान कर रहा है, उससे कहीं ज्यादा आफत चीन में बने हुए सामानों से हो रही है. कई लोगों की मौत का सबब बन चुके चीनी मांझे से होने वाले हादसे रुकने का नाम नहीं ले रहे. सरकार के द्वारा बैन लगाए जाने के बावजूद चोरीछिपे मिलने वाले इस चीनी मांझे से लोग घायल होते जा रहे हैं. चीनी मांझा कितना खतरनाक है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पुणे के 3 साल का मासूम हमजा इसकी चपेट में आकर बुरी तरह से घायल हो गया. मांझे से हमजा की आंख-नाक बुरी तरह से जख्मी हो गए. डॉक्टरों को हमजा को ठीक करने के लिए कुल 32 टांके लगाने पड़े. बताया जा रहा है कि मासूम हमजा तब चीनी मांझे की चपेट में गया, जब वो अपने मां-बाप के साथ बाइक बैठकर शहर में जा रहा था. आसमान से कटी पतंग का मांझा हमजा के चेहरे को चिरता हुआ निकल गया. गनीमत ये रही कि मांझा मासूम हमजा के गले से नहीं टकराया, नहीं तो ये जानलेवा साबित हो सकता था. चाइनीज मांझा मासूमों पर तो भारी पड़ ही रहा है. बड़े लोग भी इसके चपेट में आकर घायल हो जा रहे हैं. एमपी स्थित उज्जैन के शंकर लाल भी चाइनीज मांझे का शिकार होकर अस्पताल में भर्ती हैं. इस मामले में शंकर ने बताया कि वो सुबह-सुबह अपने काम पर जा रहे थे, तभी उसी दौरान उनके चेहरे से मांझा टकराया और इनकी नाक कटकर अलग हो गई. इतने लोगों को जख्मी कर चुके चीनी मांझे पर न जाने कब सरकार सख्ती से एक्शन लेगा और इसके आयात पर पाबंदी लगाएगी.

news18 hindi
First published: January 15, 2018, 12:50 PM IST

चीन, भारत को जितना सीमा पर परेशान कर रहा है, उससे कहीं ज्यादा आफत चीन में बने हुए सामानों से हो रही है. कई लोगों की मौत का सबब बन चुके चीनी मांझे से होने वाले हादसे रुकने का नाम नहीं ले रहे. सरकार के द्वारा बैन लगाए जाने के बावजूद चोरीछिपे मिलने वाले इस चीनी मांझे से लोग घायल होते जा रहे हैं. चीनी मांझा कितना खतरनाक है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पुणे के 3 साल का मासूम हमजा इसकी चपेट में आकर बुरी तरह से घायल हो गया. मांझे से हमजा की आंख-नाक बुरी तरह से जख्मी हो गए. डॉक्टरों को हमजा को ठीक करने के लिए कुल 32 टांके लगाने पड़े. बताया जा रहा है कि मासूम हमजा तब चीनी मांझे की चपेट में गया, जब वो अपने मां-बाप के साथ बाइक बैठकर शहर में जा रहा था. आसमान से कटी पतंग का मांझा हमजा के चेहरे को चिरता हुआ निकल गया. गनीमत ये रही कि मांझा मासूम हमजा के गले से नहीं टकराया, नहीं तो ये जानलेवा साबित हो सकता था. चाइनीज मांझा मासूमों पर तो भारी पड़ ही रहा है. बड़े लोग भी इसके चपेट में आकर घायल हो जा रहे हैं. एमपी स्थित उज्जैन के शंकर लाल भी चाइनीज मांझे का शिकार होकर अस्पताल में भर्ती हैं. इस मामले में शंकर ने बताया कि वो सुबह-सुबह अपने काम पर जा रहे थे, तभी उसी दौरान उनके चेहरे से मांझा टकराया और इनकी नाक कटकर अलग हो गई. इतने लोगों को जख्मी कर चुके चीनी मांझे पर न जाने कब सरकार सख्ती से एक्शन लेगा और इसके आयात पर पाबंदी लगाएगी.

Latest Live TV