किले जैसी इमारत और विदेशी यूनिवर्सिटी का लुक

यह न तो राजा का महल है और न ही प्राइवेट स्कूल.

यह बिहार के रोहतास जिले का एक सरकारी स्कूल है.

90 साल पुराना उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तिलौथू में है.

कैमूर पहाड़ की तलहटी में 1932 में इसकी स्थापना हुई थी.

इसका कैंपस, सुंदर क्यारियां और व्यवस्था बेजोड़ है.

इस विद्यालय में 2500 से अधिक बच्चे पढ़ते हैं.

प्राचार्य मैकू राम के मुताबिक पहले यहां अंग्रेजों की कचहरी थी.

नक्सल प्रभावित क्षेत्र में ऐसा सरकारी स्कूल, बेमिसाल है.

स्कूल से लगाव के कारण कई शिक्षक रिटायरमेंट के बाद भी सेवा देते हैं.

और स्टोरीज पढ़ने के
लिए यहां क्लिक करें

क्लिक