क्या है ग्रीन कॉफी, कब पिएं
और कब नहीं 

ग्रीन कॉफी मूल रूप से कोफिया के बीज ही होते हैं,
इसे रोस्ट नहीं किया जाता.

कोफिया के बीजों में क्लोरोजेनिक एसिड नाम का केमिकल होता है.

ग्रीन कॉफी में अधिक मात्रा में क्लोरोजेनिक एसिड, जिससे हेल्थ के फायदे ज्यादा.

इसका एसिड खाना खाने के बाद कार्बोहाइड्रेट को कोशिकाओं में जमने से रोकता है.

ग्रीन कॉफी की वजह से घटता है
ब्लड प्रेशर, डायबिटीजऔर मोटापा 
भी होता है कम.

अगर अक्सर उदास महसूस करते हैं
तो ग्रीन कॉफी मूड भी अच्छा
कर देती है.

याददाश्त बढ़ाने में मददगार,
अल्जाइमर मरीजों पर
सकारात्मक प्रभाव.

लेकिन इसका सेवन तब तो बिल्कुल मत करें जब हों प्रेग्नेंट.

एंग्जायटी और दिल की धड़कनें बढ़ने पर ग्रीन कॉफी का सेवन
ठीक नहीं.

और स्टोरीज पढ़ने के
लिए यहां क्लिक करें

क्लिक