तोते को बेवफा क्यों
कहा जाता है

क्या आपको मालूम है कि तोते की
तरह आंखें फेरना मुहावरा कैसे बना.

ये मुहावरा तोते की एक खास
आदत के कारण बना.

ये चाहे कितना ही पालतू क्यों ना हो
अगर पिंजरे से एक बार बाहर निकल गया.

 तो फिर अपने पिंजरे या मालिक
की तरफ देखता तक नहीं.

इसे लेकर एक और मुहावरा
है 'तोता-चश्म'.

जिसका मतलब होता है आंखों
में तोते की तरह लिहाज या संकोच
का पूरी तरह अभाव.

इसी वजह से तोते को बेवफा
या बेमुरौवत भी कहते हैं.

हालांकि पत्नी के मामले में ये हमेशा वफादार होता है एक ही पत्नी रखता है.

वैसे अगर रंगों के हिसाब से देखें तो
दुनियाभर में हर रंग के तोते पाए जाते हैं.

और स्टोरीज पढ़ने के
लिए यहां क्लिक करें

क्लिक