Home /News /ajab-gajab /

do you know why tortoise live long life video of 91 years old turtle went viral pratp

वायरल हो रहा है 91 साल के कछुए का वीडियो, आखिर कैसे इतनी लंबी उम्र जी लेता है ये जीव ...

आखिर कुछ जानवरों की उम्र इतनी लंबी कैसी होती है? (Credit- Twitter)

आखिर कुछ जानवरों की उम्र इतनी लंबी कैसी होती है? (Credit- Twitter)

Do You Know Why Tortoise Live Long Life : आपने कभी सोचा है कि आखिर कुछ जानवरों की उम्र इतनी लंबी कैसी होती है? इस पर पहले भी रिसर्च की जा चुकी है, जिसमें कुछ दिलचस्प फैक्ट सामने आए.

91 Years Old Turtle Video : किसी इंसान की उम्र ज्यादा से ज्यादा कितनी हो सकती है ? आज के ज़माने में 100-120 साल की उम्र अगर कोई जी ले, तो ये बड़ी बात होती है, लेकिन दुनिया में कुछ जीव ऐसे भी हैं, जिन्हें कुदरती तौर पर सैकड़ों साल की उम्र मिली है. ऐसे जानवरों में सबसे पहला हमारे ध्यान में कछुआ आता है, जो आराम से 100 साल की उम्र जीता है. आखिर ऐसा क्या विज्ञान (Do You Know Why Tortoise Live Long Life) है, जो कछुए इतनी लंबी उम्र जी लेते हैं.

कछुओं की लंबी उम्र के बारे में इसी बात से अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि धरती का सबसे अधिक उम्र का जीव भी एक कछुआ ही है. सेशेल्स का जोनाथन नाम का विशालकाय कछुआ 190 साल का हो चुका है. इस वक्त एक ऐसे ही कछुए का वीडियो वायरल हो रहा है, जो इस वक्त 91 साल का हो चुका है. कछुए को देखकर लोग काफी हैरानी जता रहे हैं क्योंकि उसका रंग-रूप थोड़ा अलग है.

पानी में तैरता दिखा बूढ़ा कछुआ
वायरल हो रहे वीडियो को ट्विटर पर @TheFigen नाम के यूज़र ने शेयर किया है. वीडियो में एक कछुआ दिखाई दे रहा है, जिसकी उम्र 91 साल का होने का दावा किया गया है. इस कछुए का रूप-रंग भी थोड़ा अलग ही है. उसकी आंखें जहां नीले रंग की दिखाई दे रही हैं, वहीं उसके शरीर पर हरे रंग की काई जमी हुई है. कछुआ पानी की तलहटी में तैर रहा है, जिसे देखकर आपको थोड़ा अजीब भी लगेगा. वीडियो को लाखों लोगों ने देखा है और वे इस बात पर हैरानी जता रहे हैं कि आखिर कछुए इतनी लंबी उम्र कैसे जी लेते हैं, जबकि हम इंसान 90 साल तक पहुंचते-पहुंचते चलने-फिरने में भी दिक्कत महसूस करने लगते हैं.

आखिर क्या है लंबी उम्र का राज़ ?
रिसर्च जर्नल साइंस में प्रकाशित फ्लिंडर्स यूनिवर्सिटी के रिसर्चर माइक गार्डनर और उनके अन्य साथी शोधकर्ताओं के शोध पत्र में इस बारे में कुछ तथ्य बताए गए हैं. 77 प्रजातियों के सरीसृप और उभरचर जानवरों पर रिसर्च करके 60 साल का डेटा इकट्ठा किया गया. इनआंकड़ों की तुलना गर्म खून वाले जानवरों से की गई, क्योंकि इनका खून ठंडा होता है. दरअसल ठंडे खून वाले जानवरों को तापमान नियंत्रित करने के लिए बाहरी वातावरण पर निर्भर होना पड़ता है. यही वजह है कि उनके भोजन पचकर ऊर्जा बनने की प्रक्रिया गर्म खून वाले जानवरों से धीमी होती है. यही वजह है कि उनके बूढ़े होने की प्रक्रिया भी धीमी हो जाती है.

Tags: Science facts, Viral video news, Viral Video on Social Media

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर