प्राइमरी से प्लस-टू तक सरकारी स्कूलों में अब लाउडस्पीकर पर होगी प्रार्थना

बिहार के सभी प्राथमिक, मध्य और माध्यमिक विद्यालयों में अब प्रार्थना सभा या चेतना सत्र लाउडस्पीकर के जरिए हुआ करेगा. शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव आरके महाजन ने विभागीय फैसले के बारे में बताते हुए सभी सरकारी विद्यालयों को इसे अमल में लाने का निर्देश दिया है.

News18 Bihar
Updated: August 11, 2018, 3:18 PM IST
प्राइमरी से प्लस-टू तक सरकारी स्कूलों में अब लाउडस्पीकर पर होगी प्रार्थना
लाउडस्पीकर ( फाइल फोटो )
News18 Bihar
Updated: August 11, 2018, 3:18 PM IST
बिहार के सभी प्राथमिक, मध्य और माध्यमिक विद्यालयों में अब प्रार्थना सभा या चेतना सत्र लाउडस्पीकर के जरिए हुआ करेगा. शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव आरके महाजन ने विभागीय फैसले के बारे में बताते हुए सभी सरकारी विद्यालयों को इसे अमल में लाने का निर्देश दिया है. उन्होंने कहा है कि इसके लिए जल्द ही लाउडस्पीकर सेट की खरीदारी पूरी कर ली जाए.

प्रधान सचिव की ओर से भेजे गए विभागीय पत्र में कहा गया है कि विद्यालयों में चेतना सत्र या प्रार्थना सभा के दौरान सभी शिक्षक भी निश्चित तौर पर मौजूद रहा करेंगे. सभी छात्रों को भी निश्चित रूप से प्रार्थना सभा में उपस्थिति सुनिश्चित करना होगा. इसमें विभाग की ओर से पहले से लागू प्रार्थना सामूहिक तौर पर गाई जाएगी.

पत्र के मुताबिक प्राइमरी से प्लस-टू स्तर तक के सभी विद्यालयों में इसे बेहद जरूरी मानते हुए तुरंत प्रभाव से अमल करने के लिए कहा गया है. जिन विद्यालयों में पहले से लाउडस्पीकर सेट नहीं है, उनके प्रधानाध्यापक को कहा गया है कि वे हर हाल में 10 अगस्त तक इसे खरीद कर कार्यक्रम में शामिल कर लें. इसकी खरीदारी के लिए विद्यालय विकास अनुदान, विद्यालय विकास कोष या छात्र कोश से रकम खर्च की जा सकेगी.

लाउडस्पीकर सेट की खरीदारी के लिए छात्रों की संख्या के अनुसार राशि का भी प्रावधान किया गया है. इसके मुताबिक जिस विद्यालय में 15 छात्र हैं उसे 12 हजार 500, 16 से 100 नामांकित छात्रों वाले विद्यालयों को 25 हजार, 101 से 250 नामांकित वाले विद्यालयों को 50 हजार, 251 से 1000 छात्र संख्या वाले विद्यालयों को 75 हजार और 1000 से छात्रों से अधिक नामांकन वाले विद्यालयों को सरकार की ओर से इस मद में एक लाख रुपये दिए जाएंगे.

ये भी पढ़ें -

CM नीतीश का छात्रों को तोहफा, पढ़ाई के लिए मिलेंगे 4 लाख !

बिहार में ITI का प्रश्न पत्र हुआ वायरल, 12 जगह परीक्षा रद्द
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर