सरकार ने जिले को घोषित किया है सूखाग्रस्त, प्रशासन बेखबर

मध्य प्रदेश में बुंदेलखंड स्थित पन्ना जिले में प्रशासन की सूखा राहत पर बड़ी लापरवाही सामने आई है

ETV MP/Chhattisgarh
Updated: December 7, 2017, 6:24 PM IST
सरकार ने जिले को घोषित किया है सूखाग्रस्त, प्रशासन बेखबर
Demo Pic
ETV MP/Chhattisgarh
Updated: December 7, 2017, 6:24 PM IST
मध्य प्रदेश में बुंदेलखंड स्थित पन्ना जिले में प्रशासन की सूखा राहत पर बड़ी लापरवाही सामने आई है.

दरअसल, सरकार ने जिले को सूखाग्रस्त घोषित तो कर दिया है लेकिन जिला प्रशासन द्वारा अब तक यहां ना ही सर्वे कार्य पूर्ण हो सका है और ना ही प्रशासन द्वारा मध्य प्रदेश सरकार को सूखा राहत राशि वितरण के लिए अब तक कोई डिमांड भेजी गई है. जिससे पन्ना जिले के करीब ढ़ाई लाख किसानों को सूखा राहत से वंचित रहने की स्थिति उत्पन्न हो गयी है.

सवाल खड़ा हो रहा है कि, तत्कालीन कलेक्टर जेपी आइरीन सिंथिया द्वारा आखिर किसानों के फसलों का अनावरी सर्वे क्यों पूर्ण नही करवाया गया. जिले को अगर सूखाग्रस्त घोषित किया गया है तो जिले के किसानों के लिए मुआवजा राहत राशि डिमांड सरकार को क्यों नही भेजी गई. जबकि सागर संभाग के पन्ना जिले को छोड़ कर सभी जिलों में सर्वे कर राहत डिमांड सरकार को भेजी जा चुकी है.

इस मामले पर अभी पन्ना जिले के नवागत कलेक्टर मनीष खत्री भी मौन हैं. उन्होंने इस संबंध में अभी कैमरे के सामने कुछ भी कहने से कन्नी काट ली.

(पन्ना से दिलीप शर्मा)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पन्‍ना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 7, 2017, 6:24 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...