पुजारियों की हत्या: उद्धव ने योगी को फोन कर जताई चिंता, राउत बोले- पालघर की तरह न दिया जाए सांप्रदायिक रंग
Mumbai News in Hindi

पुजारियों की हत्या: उद्धव ने योगी को फोन कर जताई चिंता, राउत बोले- पालघर की तरह न दिया जाए सांप्रदायिक रंग
उद्धव ठाकरे ने योगी आदित्यनाथ को मंगलवार को फोन कर बुलंदशहर में दो पुजारियों की हत्या को लेकर चिंता जताई. (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को मंगलवार को फोन कर बुलंदशहर (Bulandshahar) में दो पुजारियों की हत्या को लेकर चिंता जतायी

  • Share this:
लखनऊ. महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अपने समकक्ष योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को मंगलवार को फोन कर बुलंदशहर (Bulandshahar) में दो पुजारियों की हत्या को लेकर चिंता जताई. शिवसेना नेता संजय राउत ने यह जानकारी दी. राउत ने बीजेपी पर ताना कसते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में दो पुजारियों की हत्या को महाराष्ट्र के पालघर की घटना की तरह सांप्रदायिक रंग न दिया जाए.
उन्होंने बताया कि ठाकरे ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को फोन कर बुलंदशहर की घटना पर चिंता जताई है. राउत ने कहा, 'ऐसी घटनाओं पर हमें राजनीति करने से बचना चाहिए और दोषियों को सजा दिलाने के लिए मिलकर काम करना चाहिए.' इससे पहले राउत ने ट्वीट कर, बुलंदशहर में दो पुजारियों की हत्या की घटना को अमानवीय और बर्बर करार दिया.संजय राउत ने ट्वीट कर कहा, इसे सांप्रदायिक न बनाएंउन्होंने ट्वीट किया, 'भयावह! उप्र में बुलंदशहर के एक मंदिर में दो साधुओं की हत्या..., लेकिन मैं सभी से अपील करता हूं कि वे इसे सांप्रदायिक न बनाएं, जिस तरह से कुछ लोगों ने महाराष्ट्र के पालघर मामले में करने की कोशिश की.' उन्होंने लिखा, 'शांति बनाए रखें. देश कोरोना वायरस महामारी से लड़ रहा है और योगी आदित्यनाथ दोषियों को सजा दिलाएंगे.'


पालघर में दो संतों की हुई थी मॉब लिचिंग
गौरतलब है कि महाराष्ट्र के पालघर में 16 अप्रैल को भीड़ ने दो संतों और उनके कार चालक को कथित तौर पर पीट-पीटकर मार डाला था. दोनों संत अंतिम संस्कार के सिलसिले में मुंबई से गुजरात के सूरत की ओर जा रहे थे. इस दौरान उनके वाहन को पालघर के निकट एक गांव में रोक लिया गया. इसके बाद भीड़ ने उन्हें बाहर निकाला और बच्चा चोर होने के संदेह में डंडों से कथित तौर पर पीट-पीटकर उनकी मॉब लिचिंग कर डाली थी.



यह भी पढ़ें - 

COVID-19: राजस्थान में 73 नए मामले सामने आए, संक्रमितों का आंकड़ा 2335 पहुंचा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading