जितना होगा'दल-दल', उतना खिलेगा कमल- PM मोदी ने विपक्ष पर किए ये प्रहार

शनिवार को यूपी के शाहजहांपुर में पीएम मोदी की रैली हुई. एकजुट विपक्ष के 'महागठबंधन' पर चुटकी लेते हुए पीएम ने कहा, 'आजकल एक दल नहीं दल के साथ दल हो रहा है. अब दल के साथ दल हो, तो दलदल हो जाता है. जितना ज्यादा दलदल होता है उतना ज्यादा कमल खिलता है.'


Updated: July 21, 2018, 4:22 PM IST
जितना होगा'दल-दल', उतना खिलेगा कमल- PM मोदी ने विपक्ष पर किए ये प्रहार
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को एक बार फिर उत्तर प्रदेश का दौरा किया.

Updated: July 21, 2018, 4:22 PM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को एक बार फिर उत्तर प्रदेश का दौरा किया. शाहजहांपुर के रोजा में पीएम ने 'किसान महारैली' की. रैली में पीएम ने कांग्रेस और राहुल गांधी पर तीखे हमले किए. उन्होंने कहा, 'कुछ लोगों को प्रधानमंत्री की कुर्सी के अलावा कुछ नहीं दिखता. न देश और न गरीब'.

पढ़ें, पीएम मोदी के भाषण की 8 बड़ी बातें:-

>>विपक्ष पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'आज जो किसानों के लिए घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं, उनके पास भी ये काम करने का मौका था. लेकिन, उनके पास किसानों के लिए काम करने की फुर्सत नहीं थी.'

PM मोदी का राहुल पर तंज, कहा- 'अविश्वास प्रस्ताव का कारण नहीं बता पाए तो गले पड़ गए'

>>एकजुट विपक्ष के 'महागठबंधन' पर चुटकी लेते हुए पीएम ने कहा, 'आजकल एक दल नहीं दल के साथ दल हो रहा है. अब दल के साथ दल हो, तो दलदल हो जाता है. जितना ज्यादा दलदल होता है उतना ज्यादा कमल खिलता है.'



>>पीएम ने कहा, 'अहंकार, दंभ और दमन के संस्कार आज का युवा भारत सहने को तैयार नहीं है. चाहे साइकिल हो या हाथी, कोई भी हो साथी, स्वार्थ के इस पूरे स्वांग को देश समझ चुका है.'

>>शुक्रवार को सदन में लाए गए अविश्वास प्रस्ताव का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा, 'देश के कोने-कोने को मोदी पर विश्वास है, लेकिन कुछ दलों को विश्वास नहीं है. हमने उनके अविश्वास का बार-बार कारण पूछा है, लेकिन वो कारण नहीं बता पाए और गले पड़ गए.'

मुस्लिम 'पुरुषों' की पार्टी है कांग्रेस, चुनाव होते ही दलितों को भूल जाती हैं SP-BSP: पीएम मोदी

>>मोदी ने कहा, 'कल देश की जनता ने देखा कि कुछ लोगों को प्रधानमंत्री की कुर्सी के अलावा कुछ नहीं दिखता है, उन्हें ना देश दिखता है ना देश का गरीब दिखता है.'

>>उन्होंने कहा, 'कांग्रेस ने इस देश की जनता का सालों तक अंधेरे में रखा. हमने उनके घरों में उजाला पहुंचाने का काम किया है. ऐसे में हम उनसे पूछते हैं कि अगर घर तक बिजली नहीं पहुंची थी उसका जिम्मेदारी कौन है. 70 सालों तक उन लोगों ने राज किया, लेकिन बिजली गांव और घरों तक बिजली नहीं पहुंचा सके.'



>>मोदी ने कहा, 'मेरा गुनाह यही है कि मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहा हूं. परिवारवाद के खिलाफ पूरी ताकत से खड़ा हूं. इसलिए उन लोगों को मैं खराब लगता हूं.'

>>प्रधानमंत्री ने कहा, 'सवा सौ करोड़ लोगों का विश्वास मोदी के साथ है. मोदी सरकार शोषितों, वंचितों और पीड़ितों के लिए काम करती आई है और आगे भी करती रहेगी.'
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर