उन्नाव: दीवाली में घर आने से पहले पहुंची SSB जवान की शहादत की खबर

शहीद विजय कुमार ने अकेले आतंकवादियों से मोर्चा लेते हुए शहीद हो गए हालांकि विजय कुमार ने अपनी जान देकर पूरी बटालियन को बचाया है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 22, 2018, 5:08 PM IST
उन्नाव: दीवाली में घर आने से पहले पहुंची SSB जवान की शहादत की खबर
एसएसबी का शहीद जवान विजय कुमार. Photo: News 18
News18 Uttar Pradesh
Updated: October 22, 2018, 5:08 PM IST
उत्तर प्रदेश के उन्नाव में एक जवान के घर पहुंचने से पहले उसके शहीद होने का संदेश घर पहुंच गया. जैसे ही विजय के शहीद होने की सूचना परिजनों को मिली परिवार में कोहराम मच गया. बताया जा रहा है कि शहीद जवान विजय कुमार दीवाली के समय घर आने वाला था और जल्द ही उसे पिता बनने का सौभाग्य प्राप्त होने वाला था, उसकी पत्नी गर्भवती है. आपको बता दें की रविवार को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकियों की फायरिंग में शहीद हो गए.

उन्नाव के बीघापुर थाना क्षेत्र के रावतपुर गांव में विजय कुमार नाम का जवान एसएसबी 42 बटालियन बहराइच में तैनात था. बताया जा रहा है कि जवान जम्मू कश्मीर के पुलवामा में चुनाव ड्यूटी के लिए पूरी बटालियन गई थी. शहीद विजय की पत्नी का कहना है की शाम 7 बजे विजय कुमार से बात हुई थी, जिसके बाद वो अपनी ड्यूटी के लिए चले गए. विजय की पत्नी का कहना है की रात में कमांडेंट का फ़ोन आया. उन्होंने बताया की विजय कुमार को गोली लगने से वो शहीद हो गए हैं. बताया जा रहा है कि जिस समय ये पूरा वाक्या हुआ था वो उस समय वह पहरा दे रहा था.

 

ड्यूटी पर जाने से पहले गर्भवती पत्नी से हुई थी बात  



Unnao Martyr
शहादत की खबर सुन घर में मचा कोहराम. Photo: News 18


शहीद विजय कुमार ने अकेले आतंकवादियों से मोर्चा लेते हुए शहीद हो गए हालांकि विजय कुमार ने अपनी जान देकर पूरी बटालियन को बचाया है. आपको बता दें की विजय कुमार की डेढ़ साल पहले शादी हुई थी और अगस्त में वह आखिरी बार घर आया था और शहीद विजय की पत्नी गर्भवती थी और जल्द ही दीवाली के समय वह घर आने वाला था. लेकिन होने को कुछ और ही मंजूर था? पिता बनने से पहले ही विजय शहीद हो गए.

माता-पिता के अकेले बेटे विजय की शहादत की खबर सुनकर परिवार में गमों का पहाड़ टूट पड़ा. मां अपने बेटे को यादकर सिसक उठती तो वहीं पिता भी अपने आंसुओं के सैलाब को नहीं रोक सका. वहीं पत्नी पर तो गमों का पहाड़ टूट पड़ा है. परिवार में कोहराम मचा है तो पड़ोसी, दोस्त, नातेदार भी खबर सुनकर दौड़े चले आये. हांलाकि अभी ये नहीं पता चल सका है ​कि जवान का घर शव कब आएगा.
Loading...

(रिपोर्ट: अनुज गुप्ता)

ये भी पढ़ें: 

पेंशन की टेंशन: OPS और NPS के बीच अधर में यूपी सरकार, कर्मचारी हड़ताल पर अड़े

अभिजीत यादव मर्डर केस: आरोपी मां मीरा यादव को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया जेल

VIDEO: मंत्री सतीश महाना की गाड़ी में टक्कर के बाद सिपाही ने पैर छूकर मांगी माफी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए उन्नाव से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2018, 5:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...