Home /News /uttarakhand /

pushkar singh dhami fire action impact from doon to haridwar but no improvement in this city

CM धामी के 'फायर एक्शन' से हड़कंप, कई जगह सुधार पर यहां अफसरों का ढीला रवैया अब भी बरकरार

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आरटीओ का औचक निरीक्षण करते हुए कार्रवाई की.

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आरटीओ का औचक निरीक्षण करते हुए कार्रवाई की.

Uttarakhand News : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जिस तरह आरटीओ का औचक निरीक्षण किया और समय से दफ्तर नहीं पहुंचे स्टाफ पर कड़ा एक्शन लिया, उसका असर 24 घंटे के भीतर कई ज़िलों में दिखा, तो कहीं पुराना ढर्रा भी दिखा. न्यूज़18 की टीम ने कैमरे में क्या कुछ कैद किया, देखिए.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के ‘नो टॉलरेंस’ मूड और एक्शन को देखते हुए 24 घंटे के भीतर ही सरकारी अफसरों और कर्मचारियों का रवैया सुधरता दिखा. कल बुधवार को अचानक देहरादून आरटीओ पहुंचकर धामी ने जिस तरह एक्शन लिया, उसका असर यह रहा ​कि आज 19 मई को सरकारी दफ्तरों में घड़ी में 10 बजते ही कर्मचारियों की हाज़िरी फुल दिखने लगी. सिर्फ दून ही नहीं बल्कि अन्य ज़िलों में भी इसका असर दिखा. कुछ जगहों पर वरिष्ठ अफसरों ने दफ्तरों के औचक दौरे भी लेकिन लेकिन नैनीताल में अब भी अफसर और स्टाफ सुधरने को तैयार नहीं हैं.

न्यूज़18 टीम ने रिपोर्ट किया कि आज दून में दफ्तर खुलने से पहले ही कर्मचारी आरटीओ में पहुंचते हुए नज़र आए. सस्पेंड किए गए आरटीओ दिनेश चंद्र पठोई भी दफ्तर पहुंचे. असल में सीएम धामी ने ऑफिस से गायब रहने पर देहरादून के आरटीओ को सस्पेंड कर दिया था और गैरहाज़िर कर्मचारियों की सैलरी रोकने के निर्देश दिए थे. धामी ने साफ तौर पर कहा था कि ये मैसेज सबके लिए है कि वक्त पर ऑफिस आएं और जनता का काम करें.

दून से हरिद्वार… सुधार की बयार
सीएम की इस छापेमारी के बाद अधिकारियों की नींद टूट गई. मुख्यमंत्री की छापेमारी ही असर हरिद्वार में ऐसे दिखा कि आरटीओ कार्यालय में 10 बजे तक सभी कर्मचारी हाज़िर हो गए. इतना ही नहीं एआरटीओ रत्नाकर सिंह खुद समय से पहले ऑफिस पहुंचकर कामकाज करते दिखे. देहरादून से लेकर हरिद्वार तक न्यूज़18 के कैमरे ने कई दफ्तरों में पड़ताल की, तो रोज़ से बदला हुआ नज़ारा दिखा. सिर्फ आरटीओ ही नहीं, बल्कि देहरादून के नगर निगम दफ्तर में भी लेटलतीफ स्टाफ की समय से हाज़िरी को कैमरे ने कैद किया.

पर नैनीताल में वही लेटलतीफी बरकरार
न्यूज़18 के कैमरे ने नैनीताल डीएम कार्यालय का जायज़ा लिया तो हाल ये दिखा कि 10 बजे भी अधिकांश अधिकारी कर्मचारी ड्यूटी पर पहुंचे ही नहीं थे. कई कर्मचारी 10 बजकर 30 मिनट पर हमारे कैमरे से छिपते छिपाते कार्यालय में जाते दिखे. यहां हमारी टीम ने रिएलिटी चेक किया तो कर्मचारी अपने साथियों को बचाने के लिए झूठ भी बोलते दिखे. हालांकि जो अधिकारी टाइम पर आए थे, वो भी लड़खड़ाती ज़ुबान से कार्रवाई की बात कर रहे हैं.

अब बायोमेट्रिक मशीन से लगेगी अटेंडेंस
रुड़की में जॉइंट मजिस्ट्रेट अंशुल सिंह ने तहसील का औचक निरीक्षण किया और दो कर्मचारियों के कार्यालय देरी से पहुंचने पर स्पष्टीकरण मांगा. सिंह ने कहा कि एक सप्लाई इंस्पेक्टर, एडब्ल्यूबीएन सेक्शन के कर्मचारी से सफ़ाई संतोषजनक न मिलने पर कार्रवाई होगी. उन्होंने कहा कि अब सभी कार्यालयों में बायोमेट्रिक मशीन से हाज़िरी लगाई जाएगी.
(सतेंद्र बर्त्वाल, पुलकित शुक्ला , मनोज जुयाल और वी​रेंद्र बिष्ट के इनपुट्स के साथ)

Tags: Pushkar Singh Dhami, Uttarakhand Government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर