बेहद डरावना है ये स्कूल, प्ले ग्राउंड में दफन मिली 751 बच्चों की लाशें

पिछले महीने भी स्कूल परिसर में 215 बच्चों के शव दफन पाए गए थे. (AP)

कैमलूप्स स्कूल (Residential School) 1890 से 1969 तक संचालित हुआ था. इसके बाद संघीय सरकार ने कैथोलिक चर्च से इसका संचालन अपने हाथों में ले लिया. यह स्कूल 1978 में बंद हो गया था.

  • Share this:
    टोरंटो. कनाडा के एक आवासीय स्कूल (Residential School) से 751 बच्चों के शव मिले हैं. एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि जांचकर्ताओं को इस आवासीय स्कूल के परिसर से 751 अचिह्नित कब्रें (Unmarked Graves) मिली हैं. आशंका जताई जा रही है कि इनमें भी बच्चों के शव दफनाए गए हैं. पिछले महीने भी स्कूल परिसर में 215 बच्चों के शव दफन पाए गए थे.

    बीबीसी की खबर के मुताबिक, काउसेस फर्स्ट नेशन के प्रमुख कैडमुसन डेलमोर ने एक प्रेस ब्रीफिंग में ये बातें कही. फेडरेशन ऑफ सॉवरेन इंडिजिनस फर्स्ट नेशंस के चीफ बॉबी कैमरन ने कहा कि उन्हें आशंका है कि कनाडा भर में आवासीय स्कूल के मैदानों में और कब्रें मिलेंगी. ट्रूथ एंड रिकांसिलिएशन कमिशन ने पांच वर्ष पहले संस्थान में बच्चों के साथ हुए दुर्व्यवहार पर विस्तृत रिपोर्ट दी थी. इसमें बताया गया कि दुर्व्यवहार एवं लापरवाही के कारण कम से कम 3200 बच्चों की मौत हो गई.

    डूब रही महिला को निकालने में जुटी एजेंसियां, बाहर आने पर हर कोई हो गया हैरान

    कैमलूप्स स्कूल 1890 से 1969 तक संचालित हुआ था. इसके बाद संघीय सरकार ने कैथोलिक चर्च से इसका संचालन अपने हाथों में ले लिया. यह स्कूल 1978 में बंद हो गया था. कैमलूप्स स्कूल में 1915 से 1963 के बीच कम से कम 51 मौत हुई थी. ब्रिटिश कोलंबिया के प्रमुख जॉन होरगान ने कहा कि इस घटना का पता चलने से वह भयभीत और दुखी हैं.

    कनाडा सरकार ने इस अमानवीय व्यवहार के लिए 2008 में औपचारिक तौर पर माफी मांगी थी. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने ट्वीट किया, 'पूर्व मैरीवल आवासीय विद्यालय में दफ़न किए गए स्वदेशी बच्चों की खोज के बाद काउसेस फर्स्ट नेशन के लिए मेरा दिल टूट गया. हम उन्हें वापस नहीं ला सकते हैं, लेकिन हम उनकी स्मृति का सम्मान करेंगे और हम इन अन्यायों के बारे में सच्चाई बताएंगे.'

    अमेरिकी नौसेना ने युद्धपोत पर किया मेगा ब्लास्ट का ट्रायल, Video देखें फिर क्या हुआ

    वहीं, रोमन कैथोलिक चर्च (जो अधिकांश स्कूलों को चलाता था) ने अब तक माफी नहीं मांगी है. इस महीने की शुरुआत में पोप फ्रांसिस ने एक बयान में कहा था कब्रों की खोज से उन्हें दर्द हुआ, पीड़ितों के बचे हुए लोगों ने पोप के बयान खारिज कर दिया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.