उत्तराखंड में यहां आपका इंतजार कर रहे हैं महाभारत काल के दर्जनों पौधे

Eco Tourism : अगर आपको महाभारत काल के पेड़-पौधों के दीदार करने हैं, तो तीन दर्जन से ज़्यादा प्रजातियां (Ancient Plants) एक जगह पर संजो ली गई हैं. एक अनोखी महाभारत वाटिका (Mahabharat Garden) बनाई गई है, जहां न केवल प्राचीन पेड़ पौधे हैं बल्कि महाभारत के पन्नों में पेड़, पौधों, जंगलों और जंगलों के कल्चर (Forest Culture) के बारे में जो कुछ महत्वपूर्ण है, वो सब भी आपको जानने को मिलेगा. भीष्म भी यहां हैं, भीष्म के संदेश भी... आइए शैलेंद्र सिंह नेगी के शब्दों के साथ इस वाटिका को निहारें.

विज्ञापन
विज्ञापन
First published: