होम /न्यूज /जीवन शैली /क्या हार्ट अटैक के बढ़ते मामलों से घट रहा जिम का क्रेज? हकीकत जानकर हैरान रह जाएंगे

क्या हार्ट अटैक के बढ़ते मामलों से घट रहा जिम का क्रेज? हकीकत जानकर हैरान रह जाएंगे

जिम के दौरान हार्ट को लेकर सावधानी बरतने की जरूरत होती है.

जिम के दौरान हार्ट को लेकर सावधानी बरतने की जरूरत होती है.

Gym and Heart Health: पिछले कुछ सालों में जिम की तरफ लोगों का रुझान तेजी से बढ़ा है. हालांकि कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव क ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

जिम के दौरान किसी भी परेशानी से बचने के लिए नियमों का पालन करें.
ज्यादा देर तक बिना इंस्ट्रक्टर के जिम करना काफी खतरनाक हो सकता है.

Heart Attack and Gym Trend: फिट और तंदुरुस्त रहने के लिए इन दिनों हर उम्र के लोगों में जिम जाने का जबरदस्त क्रेज देखा जा सकता है. युवाओं से लेकर बुजुर्ग तक जिम में वक्त बिताना पसंद कर रहे हैं. कुछ सप्ताह पहले देश के मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव को जिम में हार्ट अटैक आ गया था. वह गंभीर कंडीशन में हॉस्पिटल में भर्ती हैं. इससे पहले भी कुछ सेलिब्रिटीज को जिम करने के दौरान हार्ट से संबंधित परेशानियां हो चुकी हैं. इस मुद्दे पर हर तरफ खूब चर्चाएं हो रही हैं. कुछ लोगों में जिम को लेकर डर पैदा हो गया है. अब सवाल उठता है कि क्या इन घटनाओं की वजह से जिम जाने वाले लोगों की संख्या में कमी आई है? इस बारे में जान लेते हैं.

यह भी पढ़ेंः अब टोमेटो फीवर का कहर, जानें इस बीमारी से जुड़े सभी सवालों के जवाब

यह बोले फिटनेस फर्स्ट के पूर्व ट्रेनर
फिटनेस फर्स्ट के पूर्व ट्रेनर अरुण सिंह के मुताबिक इन घटनाओं का जिम जाने वाले लोगों की संख्या पर कोई फर्क नहीं पड़ा है. पहले की तरह अब भी जिम में बड़ी संख्या में लोग आकर एक्सरसाइज कर रहे हैं. इसकी वजह यह है कि जिम में हार्ट अटैक के मामले रेयर केसेस में ही देखे जाते हैं, जबकि यह कई मायनों में हेल्थ के लिए फायदेमंद साबित होती है. हार्ट अटैक के मामले भी ऐसे लोगों में देखने को मिले हैं, जो पहले से इन बीमारियों से जूझ रहे थे. हालांकि सभी को जिम में गाइडलाइंस का अच्छी तरह पालन करना चाहिए और एक्सेसिव एक्सरसाइज से बचना चाहिए. क्वालिफाइड ट्रेनर के अंडर ही जिम करनी चाहिए और इससे पहले डॉक्टर से जरूर कंसल्ट कर लेना चाहिए.

यह भी पढ़ेंः कम सोने वाले लोगों से न रखें मदद की उम्मीद ! स्टडी में हुआ खुलासा

जिम में लोग कर रहे इन घटनाओं की चर्चा
नई दिल्ली की जीएफएफआई फिटनेस एकेडमी के ट्रेनर पंकज मेहता कहते हैं कि इन घटनाओं से जिम में आने वाले लोगों की संख्या पर कोई खास फर्क नहीं पड़ा है, लेकिन लोग जिम के दौरान इन घटनाओं की चर्चा जरूर कर रहे हैं. जिम जॉइन करने से पहले कुछ लोग इस तरह के तथ्य जान लेना चाहते हैं. इसे लेकर जिम करने वाले लोगों को सभी जरूरी बातें भी बताई गई हैं, ताकि उनके मन में इस तरह का डर न रहे. पंकज मेहता के अनुसार जिम जॉइन कराने से पहले सभी लोगों की मेडिकल हिस्ट्री और डॉक्टर की रिकमेंडेशन जरूर देखी जाती है. ऐसी घटनाओं के बाद अतिरिक्त सावधानी बरत रहे हैं. डायबिटीज या अन्य बीमारियों के मरीजों को इंटेंस एक्सरसाइज करने की सलाह नहीं दे रहे.

डरने की जरूरत नहीं, बस सावधानी बरतें
नोएडा की फोर्टियर फिटनेस एकेडमी के ट्रेनर देव सिंह के अनुसार जिम करने से हमारे शरीर को कई फायदे होते हैं, लेकिन इसके लिए प्रॉपर रूल्स को फॉलो करना चाहिए. जिम में हार्ट अटैक जैसे मामले कभी कभार देखने को मिलते हैं और उसकी वजह कोई बीमारी या खाने-पीने की गलत आदतें होती हैं. जिम से हार्ट अटैक को जोड़ना सही नहीं होगा. लोगों को जिम करने के दौरान डरना नहीं चाहिए, लेकिन सभी सावधानी बरतनी चाहिए. लोगों को चिकन खाने से भी बचना चाहिए. आमतौर पर जिम से पहले लोगों से मेडिकल कंडीशन को लेकर चर्चा की जाती है और गंभीर बीमारियों से जूझने वाले लोगों को डॉक्टर की सलाह के बाद ही जिम कराई जाती है.

Tags: Gym, Health, Heart attack, Lifestyle, Trending news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें