Home /News /nation /

दुनिया की पहली DNA और सुई रहित वैक्सीन देश में इस्तेमाल के लिए तैयार, ZyCoV-D की 2 लाख से ज्यादा डोज रिलीज

दुनिया की पहली DNA और सुई रहित वैक्सीन देश में इस्तेमाल के लिए तैयार, ZyCoV-D की 2 लाख से ज्यादा डोज रिलीज

ZyCoV-D भारत की पहली डीएनए आधारित वैक्सीन है.

ZyCoV-D भारत की पहली डीएनए आधारित वैक्सीन है.

Zydus Cadila Coronavirus Vaccine: ZyCoV-D मानव उपयोग के लिए दुनिया में पहला डीएनए प्लास्मिड वैक्सीन है, जिसे कंपनी द्वारा कोविड -19 के खिलाफ स्वदेशी रूप से विकसित किया गया है. देश में 12-17 वर्ष के आयु वर्ग के किशोरों में उपयोग के लिए ZyCoV-D पहला टीका है, जिसे अगस्त में स्वीकृत किया गया था.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस से लड़ने के लिए कैडिला हेल्थकेयर (Cadila Healthcare) द्वारा निर्मित दुनिया की पहली डीएनए-आधारित सुई-रहित वैक्सीन जायकोव-डी (ZyCoV-D) की 2,37,530 खुराक वाले सात बैचों को कसौली स्थित केंद्रीय औषधि प्रयोगशाला (Central Drug Laboratory) द्वारा परीक्षण के बाद जारी किया गया है. इसके अलावा, कोवैक्सिन के 466, कोविशील्ड के 549, जॉनसन एंड जॉनसन के 7 और स्पुतनिक वी के 24 बैचों को भी जारी किया गया है. सीडीएल कसौली के निदेशक डॉ अरुण भारद्वाज ने सीएनएन-न्यूज 18 को यह जानकारी दी.

    इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस साल सीडीएल से छह कोविड -19 टीकों के कुल 1,053 बैचों में 1,521 लाख खुराक जारी किये गए हैं. माता-पिता अपने बच्चों के लिए जायडस कैडिला (Zydus Cadila) की कोरोना वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. ZyCoV-D मानव उपयोग के लिए दुनिया में पहला डीएनए प्लास्मिड वैक्सीन है, जिसे कंपनी द्वारा कोविड -19 के खिलाफ स्वदेशी रूप से विकसित किया गया है.

    क्या डेल्टा से ज्यादा खतरनाक है कोविड का नया वेरिएंट? कितनी असरदार होगी वैक्सीन; जानें सब कुछ

    जायकोव-डी ऐसा पहला कोविड रोधी टीका है जिसे भारत के औषधि महानियंत्रक (DCGI) ने 12 वर्ष और अधिक आयु के लोगों को लगाने की मंजूरी दी है. हालांकि सरकार को अभी तक बच्चों में कोविड के टीके लगाने के लिए दिशा-निर्देशों जारी करना बाकी है.

    कोविड के नए स्ट्रेन पर क्या कहते हैं दुनिया के टॉप-5 एक्सपर्ट्स, जानें कितना है घातक?

    ZyCoV-D तीन खुराक वाली वैक्सीन है. इसकी दूसरी और तीसरी खुराक, पहली खुराक के 28 और 56 दिन बाद दी जाएगी. हर खुराक में दो शॉट्स लगेंगे जो कि दोनों (दाएं और बाएं) हाथों पर दिया जाएगा. इस तरह से, ZyCoV-D द्वारा पूरी तरह से टीका लगवाने के लिए किसी को कुल छह शॉट्स लगाने होंगे.

    सरकार के लिए 1,128 रुपये होगी कीमत
    कोविशील्ड और कोवैक्सिन जैसे पारंपरिक टीकों जिन्हें लगाने के लिए सिरिंज और 0.5 मिली आकार की खुराक का इस्तेमाल किया जाता है, के उलट ZyCoV-D एक सुई-रहित वैक्सीन है. इसके डोज को लगाने के लिए एक डिस्पोजेबल दर्द रहित जेट एप्लीकेटर का उपयोग किया जाता है. केंद्र सरकार के लिए तीन खुराक वाले टीके की कीमत 1,128 रुपये होगी.

    Tags: Cadila Healthcare, Coronavirus, Coronavirus vaccine, DNA Vaccine, Zycov-D

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर