• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • अमिताभ कांत ने बताया कि क्या होगी PLI स्कीम की रुपरेखा, जानिए वैश्विक बाजार को कैसे टक्कर देगा भारत

अमिताभ कांत ने बताया कि क्या होगी PLI स्कीम की रुपरेखा, जानिए वैश्विक बाजार को कैसे टक्कर देगा भारत

नीति आयोग सीईओ अमिताभ कांत (Photo: PTI)

नीति आयोग सीईओ अमिताभ कांत (Photo: PTI)

नीति आयोग के CEO अमिताभ कांत (Amitabh Kant) ने कहा कि जल्द ही PLI स्कीम को कैबिनेट से मंजूरी लेने के लिए भेजा जाएगा. उन्होंने यह भी बताया कि PPP मॉडल के तहत ट्रेनों के नीजिकरण का काम दिसंबर तक हो जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    नई दिल्ली. चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के आंकड़े जारी होने के कुछ दिन बाद ही नीति आयोग (NITI Aayog) के CEO ​अमिताभ कांत (Amitabh Kant) ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से पूरी दुनिया पर असर पड़ा है. ​अमिताभ कांत ने CNBC-TV18 को दिए इंटरव्यू में कहा कि मौजूदा संकट में सरकार की पहली जिम्मेदारी लोगों की जिंदगी बचानी है. इसीलिए लॉकडाउन का फैसला लिया गया था. लुढ़कते जीडीपी पर उन्होंने कहा कि हम जल्द ही बेहतर कर सकेंगे. इस दौरान उन्होंने सरकार की पीएलआई स्कीम और रेलवे के पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के बारे में भी कई जरूरी जानकारी दिया.

    जल्दी पीएआई स्कीम के लिए कैबिनेट से मंजूरी
    उन्होंने कहा कि एक ब्रॉड पॉलिसी के तहत हर सेक्टर के लिए अलग-अलग पीएलआई होगा. एक अंब्रेला पीएलआई स्कीम (PLI Scheme) के लिए कैबिनेट से मंजूरी ली जाएगी. इस दौरान कांत ने कहा कि ट्रेनों के नीजिकरण (Train Privatization) का काम दिसंबर अंत पूरा कर लिया जाएगा. इसके लिए 45 कंपनियों ने रुचि जताई है. 10 स्टेशनों के लिए रिक्वेस्ट ऑफ कोटेशन (RFQ) पहले ही मिल चुका है. कुछ दिन पहले ही नई दिल्ली रेलवे स्टेशन और सीएसटी मुंबई के लिए आरएफक्यू फ्लोट किया गया था.

    जल्द स्थिति सामान्य होने की उम्मीद
    उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान से ही अब तक उठाए गए कदमों के बाद निश्चितम स्थित नॉर्मल हो जाएगी. मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स और कंपनियों के काम शुरू होने के लिहाज से देखें तो इसमें लॉकडाउन के बाद से लगातार सुधार हुआ है. राज्यों भी अब लॉकडाउन के बाद सामान्य स्तर पर पहुंचने के ​लिए जरूरी कदम उठा रहे हैं.

    यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बचत और चीजों की नीलामी से मिले 103 करोड़ रुपये दान किए

    भारत को वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धी बनाने पर जोर
    कांत ने कहा कि मौजूदा संकट हमारे लिए एक मौका है कि हम बड़े स्तर पर रिफॉर्म्स करें. हमनें 15 सेक्टर्स के लिए पीएलआई स्कीम्स पर काम कर लिया है. इसे शॉर्टलिस्ट कर 9 से 10 किया जाएगा. पीएलआई स्कीम्स पर सरकार एडवांस स्तर पर पहुंच चुकी है. हर मंत्रालय पीएलआई स्कीम तैयार करेगी और यह तय किया जाएगा कि किस क्षेत्र में भारत प्रतिस्पर्धी बन सकता है. इस स्कीम का लक्ष्य है कि वैश्विक बाजार के लिए हर किसी को तैयार किया जाए.

    ट्रेनों के नीजिकरण पर उन्होंने कहा कि दिसंबर अंत तक इसे पूरी होने की उम्मीद है. प्राइवेट ईकाईयां ही सोर्सिंग और ऑपरेशन का काम करेंगी. ट्रेन रूट्स का नीजिकरण एक बड़ा और फायदेमंद कदम होगा. इसके लिए RFQ 1 जुलाई को फ्लोट किया जा चुका है. अब तक विदेशी और घरेलू कंपनियों से बेहतर रिस्पॉन्स मिला है.

    यह भी पढ़ें: आपके इनकम टैक्स संबंधी ये जानकारी देख सकते हैं बैंक व पोस्ट ऑफिस, कटेगा TDS

    ​अमिताभ कांत ने उम्मीद जताइ की दिसंबर तक प्राइवेट ट्रेनों की बीडिंग प्रोसेस पूरा हो जाएगा. ​विश्व बैंक की रिपोर्ट को लेकर उन्होंने कहा कि डेटा में कोई अनियमितता नहीं है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज